प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता सूची 2018 – Prime Minister’s Housing Scheme Eligibility List

भारत में आज के समय लगभग 40% ऐसे लोग है जिनके पास रहने को घर नहीं है या कुछ ऐसे लोग है जिनके पास खुद का घर नहीं है| ऐसे लोग किराय पर रहते है| एक सामान्य आम नागरिक की इच्छा होती है की उसके पास खुद का अपना घर ही जिसे वे अपने अनुसार बनवा सके| ऐसे में कुछ लोग भारी ब्याज देकर गृह ऋण लेते है| पर जो लोग ऐसे लोन को भी नहीं ले पाते है वे किराय के घर में ही अपना जीवन बिताते है| भारत में साल 2014 में BJP की तरफ से नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री चुना गया था जिसके बाद से उन्होंने अपने कार्यकाल में गरीबों के लिए कई तरह की योजनाएं व स्कीम लागू की |

आज के इस पोस्ट में हम आपको pradhan mantri awas yojana status, pmay eligibility calculator, pradhan mantri awas yojana gramin, how to apply for pradhan mantri awas yojana, pradhan mantri awas yojana list, pradhan mantri awas yojana eligibility sbi, pradhan mantri awas yojana hindi, प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता सूची 2018, प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता सूची राजस्थान, प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता सूची 2011, आदि की जानकारी देंगे|

प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता सूची

पिछले दशक में विकास में बड़े पैमाने पर छलांग लगाने के बावजूद, भारत में अभी भी बड़ी संख्या में लोग गरीबी में रह रहे हैं, जिनमें से अधिकतर अपने घर कहने के लिए घर नहीं हैं। भारत सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के परिचय के साथ बेघरता को खत्म करने की दिशा में एक गंभीर कदम उठाया है। इस परियोजना को जिसे पहले हाउसिंग फॉर ऑल के नाम से जाना जाता था वे वर्ष 2022 तक 20 मिलियन से अधिक शहरी गरीब लोगों को घर प्रदान करेगा। भारत की मिनिस्ट्री ऑफ़ हाउसिंग एंड अर्बन पावर्टी अलायन्स ने एक स्पष्ट एलेजिबिलिटी क्रिड़ारिया या पात्रता सूची जारी की है जिसके अनुसार जो लोग इन निम्नलिखित एलेजिबिलिटी सूची के अंतर्गत आते है वे ही इस योजना के लिए आवेदन दे सकते है| साथ ही आप Pradhan Mantri Awas Yojana Last Date in Hindi भी जान सकते हैं| अगर आपने इस योजना के लिए अप्लाई किया है तो आप प्रधानमंत्री आवास योजना स्टेटस चेक कर सकते हैं|

Pradhan Mantri Awas Yojana Eligibility

Prime Minister's Housing Scheme Eligibility List

2015 में जारी हुई इस योजना को शुरू करने के कई ऐसे उद्देश्य थे जिससे देश का विकास हो| इन उद्येश्य के वारे में जाने|

  • इस योजना का मकसत यह सुनिश्चित करना है कि शहरी भारत के गरीब वर्ग स्वयं की छत के नीचे रह सके|
  • उन लोगों को वित्तीय सहायता प्रदान हो सके जो आवासीय संपत्ति बनाने की पूरी लागत नहीं उठा सकते हैं।
  • समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों ईडब्ल्यूएस को घरो की परेशानी से मुक्त करने के लिए इस योजना की आवश्यकता है|
  • देश के शहरी गरीब जनसंख्या के भाग्य को बेहतर बनाने के लिए सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों को एक साथ लाने के लिएयह योजना आवश्यक है|

प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता सूची 2018-19

पीएमएवाई लाभार्थियों की सूची की पहचान और चयन करने के लिए सरकार 2011 की एसोसिएशन इकोनॉमिक और जाति जनगणना या एसईसीसी का उपयोग करेगी। यह चुनाव इस योजना को और भी मजबूत बनाने के लिए और सही लाभार्थियो को यूजजना का लाभ दिलाने के लिए लिया गया है| अगर आप इस योजना के लिए अप्लाई करना चाहते है तो आप नीचे दिए हुए योग्यताओ पर खरे उतरने चाहिए|

  • पीएम आवास योजना के लिए 6 लाख से 18 लाख रुपये के बीच कुल वार्षिक आय वाला कोई भी परिवार आवेदन कर सकता है।
  • इस योजना के लिए आवेदन करते समय आवेदक को पति / पत्नी की आय शामिल करने की आवश्यकता है।
  • भारतीय नागरिक जो महिलाएं है वे इस योजना के लिए आवेदन दे सकते हैं।
  • प्रधान मंत्री आवास योजना लाभ का आनंद लेने के लिए लाभार्थी केवल एक नया घर खरीद सकता है। जिन लोगों के पास पहले से ही एक घर है, वे इस योजना के लिए आवेदन करने के योग्य नहीं हैं।
  • देश के किसी भी हिस्से में लाभार्थी या परिवार के सदस्य द्वारा कोई पक्का मकान नहीं होना चाहिए।
  • लोगों को केवल नए घर खरीदने / निर्माण करने के लिए लोन दिया जायगा| कोई भी पहले से निर्मित घर पर पीएमए योजना का लाभ नहीं उठा सकता है।
  • जो लोग कम आय वाले समूह से संबंधित हैं यानी एलआईजी और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग जिन्हें समाज में ईडब्ल्यूजी भी कहा जाता है वे भी आवेदन कर सकते हैं।
  • अनुसूचित जनजाति और जाति भी इस योजना का लाभ उठा सकती है|

Sno State
1 Uttar Pradesh
2 Maharashtra
3 Bihar
4 West Bengal
5 Madhya Pradesh
6 Odisha
7 Telangana
8 Kerala
9 Jharkhand
10 Assam
11 Himachal Pradesh
12 Tripura
13 Meghalaya
14 Manipur
15 Nagaland
16 Tamil Nadu
17 Rajasthan
18 Karnataka
19 Gujarat
20 Punjab
21 Chhattisgarh
22 Haryana
23 Jammu and Kashmir
24 Goa
25 Arunachal Pradesh
26 Mizoram
27 Sikkim
28 Andhra Pradesh
29 Uttaranchal

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!