प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के नियम 2018 – Rules for Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana in Hindi

केंद्र सरकार समय-समय पर कोई न कोई योजना लोगों के हित के लिए निकलती ही रहती है | उन्ही में से आज हम एक योजना के बारे में जानेंगे जिसका नाम प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना है | यह योजना की शुरुआत प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 9 मई 2015 को की गयी थी | इस योजना का उदेश्यय लोगों को लाइफ इन्शुरन्स देकर मुश्किल वक़्त में उनकी सहायता करना है | इस योजना के अंतर्गत व्यक्ति को 2 लाख तक जीवन बीमा प्रदान किआ जाता है और किसी कारणवश उस व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर उसके परिवार को २ लाख रूपए की आर्थिक मदद की जाएगी |आइये अब हम इस योजना के नियमों के बारे में जानते हैं |

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना नियम

प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के कुछ नियम हैं जिनका पालन करते हुए हम इस योजना का लाभ उठा सकते हैं | आइये जानते हैं उन नियमों के बारे में –

इस बीमा योजना में व्यक्ति को हर साल नवीनीकरणीय एक साल का कवर प्राप्त होता है और किसी भी कारणवश मृत्यु होने पर जीवन बीमा कवर की पेशकश की गई है | यह योजना भारतीय जीवन बीमा (एलआईसी) के माध्यम से पेश की जाएगी |वैसे और दूसरी बीमा कंपनी भी यह सहायता प्रदान क्र सकतीं हैं परन्तु उन्हें आवश्यक मंजूरी लेनी होती है | सहभागी बैंक इस तरह की
अन्य किसी भी जीवन बीमा कंपनी को संग्लन कर अपने ग्राहकों के लिए यह योजना लागू कर सकते है |

सहभागी बैंको के 18 से 50 वर्ष की आयु के सभी बचत बकैं खाता धारक शामिल होने के हकदार हैं | यदि किसी भी व्यक्ति के एक या एक से ज्यादा अलग-अलग बैंकों में बचत खाते हैं तोह इस स्थति में वो व्यक्ति केवल एक बचत खाते के जरिये ही से इस योजना में शामिल होने के लिए पात्र होगा | बैंक खाते के लिए आधार कार्ड जरूरी होगा। फॉर्म भर कर अप्लाई करने के बाद आप अपना स्टेटस चेक भी कर सकते हैं| साथ ही आप PMJJBY Eligibility भी जान सकते हैं|

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के नियम

Rules for pradhan mantri jeevan jyoti bima yojana

प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का कवर 1 जून से 31 मई तक एक वर्ष के लिए होगा जिसमे शामिल होने के लिए व्यक्ति को नामित बचत बैंक खाते से स्वत: नामे द्वारा नामांकन/भगुतान करने के लिए निर्धारित प्रपत्रों पर हर साल 31 मई तक,प्रारंसभक वर्ष के लिए उक्त रूप में अपवाद के साथ, विकल्प प्रस्ततु करना जरूरी होगा। संभावित कवर के लिए विलम्बित नामांकन पूर्ण सालाना प्रीसमयम भगुतान के साथ अच्छे स्वास्थ्य का स्वप्रमाणपत्र प्रस्ततु करने पर सभंव हो सकता है |

इस योजना से बाहर निकलने वाले व्यक्ति किसी भी समय, आने वाले सालों में, निर्धारित प्रोफॉमा में अच्छे स्वास्थ्य की घोषणा प्रस्ततु कर इस योजना में फिर से शासमल हो सकते है | आने वाले सालों में, पात्र श्रेणी में नए सदस्य, या वर्तमान में पात्र व्यक्ति जो पहले इस योजना मे
शामिल नही हुए थे या जिन्होंने अपना अशं दान बंद किया था, इस योजना में, यदि वह जारी हो तो, अच्छे स्वास्थ्य की घोषणा प्रस्ततु कर शामिल हो सकते है |

इस योजना के अंतर्गत 330/- रूपए प्रति वर्ष प्रति सदस्य निर्धारित है | इस योजना के तहत, दिए गए विकल्प के अनुसार ,प्रीसमयम एक किश्त में ‘स्वत:नामे’ सुविधा के द्वारा खता धारक के बचत खाते से हर साल कवरेज अवधि की 31 मई या उस से पहले काट लिया जाएगा | 31 मई के बाद, संभावित कवर के लिए विलम्बित नामांकन पूर्ण वार्षिक प्रीमियम भगुतान के साथ अच्छे स्वास्थ्य का स्व-प्रमाण पत्र प्रस्ततु करने पर संभव हो सकता है | वार्षिक दवा अनुभव के आधार पर प्रीमियम की समीक्षा की जाएगी।

Pradhan mantri jeevan jyoti bima yojana scheme rules

आइये अब आपको इस योजना की पात्रता की क्या-क्या शर्तें होतीं हैं उनके बारे में बताते हैं | जैसे सहभागी बैंकों के बचत बैंक खाता धारक, जिनकी उम्र 18 वर्ष से 50 वर्ष के बीच है तथा जो उक्त साधन के रूप में योजना मे शामिल होने हेतु / स्वत:नामे हेतु सहमति दे, उन्हें इस योजना में शामिल किया जा सकता है |

जो व्यक्तत प्रारम्भिक नामांकन की अवधि के बाद,31 अगस्त 2015 या 30 नवंबर 2015 तक की विस्तारित अवधि तक,जैसा भी मामला हो,योजना मे शामिल हो रहे है उन्हे,एक आत्म-प्रमाणीकरण देनाआवश्यक होगा की उनका स्वास्थ्य अच्छा है और वे किसी भी ‘गंभीर बीमारियों’ जो की नामांकन के समय सहमति घोषणा पत्र में उल्लेख किया गया है,से ग्रस्त नही है।

अब हम आपको बताएंगे की इस योजना के अंदर किन परिस्थतियों में आश्वासन की समाप्ति है सकती है | सदस्य के जीवन पर आश्वासन निम्नलिखित घटनाओं में से किसी भी एक घटना घटने पर समाप्त होगा तथा उस स्थति में कोई भी लाभ देय नही होगा:

  • 55 साल की उम्र (जन्म दिन के निकटतम आयु ) होने पर शर्त यह है की उस तिथि (प्रवेश, हालाकी , 50 वर्ष की आयु पर सभंव नही होगा ) तक वार्षिक नवीनीकरण हो |
  • बकैं के साथ खाता बदं होने पर या बीमा कवर चालूरखने हेतु पर्याप्त राशि न होने पर |
  • यदि सदस्य एलआईसी/अन्य कम्पनी के साथ एक से अधिक खाते के माध्यम से कवर किया गया है और एलआईसी/ अन्य कम्पनी द्वारा अनजाने में प्रीमयम प्राप्त होता है तो उस स्थति में बीमा कवर रु 2 लाख के लिए प्रतिबंधित हो जाएगा तथा प्रीमयम जब्त होने के उत्तरदायी उत्तरदायी होगा |
  • यदि बीमा कवर देय तिथि पर किसी तकनीकी कारण से(जैसे पर्याप्त राशि न होना या किसी प्रशाशनिक मुद्दों की वजह से) बदं हो जाता है तो वह, पूर्ण वार्षिक प्रीमयम और अच्छे स्वास्थ्य की एक संतोषजनक बयान की प्राप्ति पर कफर से बहाल किया जा सकता है |
  • सहभागी बकैं नियमित नामांकन के मामले में प्रति वर्ष 30 जून या इससे पूर्व तथा अन्यमामलों में प्राप्ति के महीने में, प्रीमयम प्रेषित करेगा |

किसी भी प्रकार की अन्य जानकारी जानने के लिए आप Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana Helpline Number देख सकते हैं|

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!